Loading...

Java in Hindi – Interfaces

  • Introduction to java interfaces in Hindi
  • Working with java interfaces in Hindi 
  • Example of java interfaces in Hindi

Introduction to Java Interfaces 

Java interfaces का concept एक simple उदाहरण से समझने का प्रयास करते है। मान लीजिये आपका एक दोस्त है। और आपके दोस्त की एक कंपनी है। आप भी एक कंपनी खोलना चाहते है। आप अपने मित्र से पूछते है की मुझे कंपनी खोलने के लिए क्या करना होगा।

आपका दोस्त आपको बताता है की sales department, production department, accounts और management department आपको setup करना होगा। ध्यान दीजिये आपके दोस्त (java interface) ने सिर्फ आपको बताया है की आपको क्या करना है। आप ये कैसे करेंगे ये आप पर depend करता है।

Tells a Class What to Do

इसी तरह interfaces classes को बताते है की उन्हें क्या करना है। Class वो काम कैसे करती है ये उस class पर depend करता है। जैसे आप exam time में सिर्फ topics की headings को याद करते है और एग्जाम में उन headings की detail अपने मन से सोचकर लिख कर आते है java interface भी उसी तरह है।

Interface किसी boss की तरह होता है और class किसी employee की तरह interface क्लास को काम बताता है और class उस काम को करती है। Interface कोई भी काम खुद नहीं करता है। इसलिए interface में define किये गए methods को आपको किसी task की तरह देखना चाहिए जो interface क्लास से करवाना चाहता है।    

All Interface Methods are Abstract

एक java interface में define किये गए सभी methods by default abstract होते है। मतलब इनकी कोई body नहीं होती है। Interface को हमेशा public declare किया जाता है। जब कोई class interface को implement करती है तो उसे interface में declare किये गए सभी methods की definition provide करनी होती है। आप किसी method को छोड़ नहीं सकते है। एक interface को कोई class extend नहीं करती है। Interfaces हमेशा implement किये जाते है। इसके लिए आप implements keyword यूज़ करते है।

Implement Multiple Inheritance

Java में multiple inheritance allow नहीं है। लेकिन java में interfaces के द्वारा multiple inheritance implement किया जा सकता है। Interfaces super class की तरह methods provide करते है, बस उनकी definitions हमे implement करने वाली class में देनी होती है।

Interfaces Do Not Have Objects

Structurally interfaces classes की तरह ही होते है, लेकिन आप इनका object नहीं create कर सकते है और किसी method की body भी आप नहीं declare कर सकते है। 

Methods के साथ ही आप java interfaces में variables भी declare कर सकते है। Interfaces में declare किये जाने वाले variables static और final होने चाहिए।

एक interface एक से ज्यादा interfaces को extend कर सकता है।और एक बार interface declare करने के बाद कितनी भी classes उस interface को implement कर सकती है। और एक class जितने चाहे उतने interface implement कर सकती है।

IS-A Relationship

इसके लिए आपको सभी interfaces के नामों को (,) से separate करना होगा। Java में Interfaces classes के साथ Is-a relationship establish करते है। उदाहरण के लिए आपके pass एक interface है fruits नाम से जिसमे color और taste आदि methods है और एक mango नाम की class है। अब यदि mango class fruit interface को implement करती है तो इनमे Is-a relation होगा। यानि आप कह सकते है की Mango is a fruit.

Working with Interfaces 

Java में interfaces को declare करना बिलकुल आसान होता है। इसके लिए आप interface keyword यूज़ करते है। सबसे पहले तो आप public access modifier define करते है, इसके बाद आप interface keyword लिख कर interface का नाम लिखते है। इसके बाद curly brackets में आप उन सभी methods को declare करते है जो आप किसी class से implement करवाना चाहते है। वैसे तो java interfaces के अंदर सभी methods by default public होते है। लेकिन आप चाहे तो public access modifier सभी methods के आगे add कर सकते है।

Syntax

public interface interface_Name 
{    
   // methods without body; 
}

जैसे की मैने आपको पहले बताया implements keyword को यूज़ करते हुए कोई भी class आसानी से interface को implement कर सकती है।

Example1: Implement a Java interface

public interface yourFriend  
{ 
     public void sales();
     public void production();
     public void accounts();
     public void management();
} 
 
public class You implements yourFriend
{ 
     public void sales()
     {
         // implement sales department
     }

     public void production()
     {
        // implement production department
     }
 
     public void accounts()
     {
        // implement production department
     }

     public void management()
     {
        // implement production department
     }
}

Previous: Java Exception Handling
Next: Java Packages

17 thoughts on “Java in Hindi – Interfaces”

  1. this ia the best place to learn and clear concepts keep it up Sir ji thank u so much you have cleard my doubts about interface thank you soooooo muchhh

  2. sir jese YOU class ne YourFriend interface ko implement kr k uske method ki body ko define kiya but eski jgah aesa bhi to kr skte hai na ki YOU class k ander hi sales(),Production(),account() or managment() function create kr de but hmne aesa nhi krke qinterface q use kiya? Please sir ye doubt clear kijiye.

    • Yedi employees khud hi kaam kar lete to boss ki aavshykta nahi hoti. Interface classes ko force karta h ki unhe jo methods interface me diye gye h unhe kisi bhi condition me implement karna hi hoga. Yedi aap sochte h ki kisi task ko complete karne ke liye class ko particular methods implement karna jauri h to esa aap interface ke maadhyam se kar sakte h. Interfaces classes ko ek particular structure me bound karte h jo unhe follow karna anivary h.

    • Abstraction ko archive karne k liye
      Or yadi hamre yadi hame kabhi bhavishy mai jarurat pade to us functions ko multiple inheritance ki jariye bhi use kiya ja sake
      Interface se hame multiple inheritance ka option bhi mil jata h

Comments are closed.