C in Hindi : Flow Chart

C Flowchart

  • Introduction to flowchart in Hindi 
  • Symbols of flowchart in Hindi 
  • Examples of flowchart in Hindi

    Introduction to Flowchart 

    Flow chart किसी process का graphical representation होता है। C language के सन्दर्भ में यह program के execution flow का graphical presentation होता है। 

    प्रायः जब भी आप कोई program लिखते है तो बिना किसी flow chart के लिखते है। किसी दूसरे व्यक्ति द्वारा इसे समझना असंभव होता है। Flow chart के माध्यम से आप अपने program को graphically represent करते है। ऐसा करने से कोई भी आपके program के logic को आपके बिना भी समझ सकता है।        
    जब आप किसी company के लिए programmer के रूप में काम करते है तो coding से पहले flowchart बनाना अनिवार्य होता है। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि companies में अक्सर programmers बदलते रहते है।

    आपके द्वारा बनाये गए किसी project को कोई दूसरा व्यक्ति आसानी से समझ सके और उस पर काम कर सके इसलिए आपको flow charts create करना अनिवार्य होता है।    

    Flow chart create करने का एक महत्वपूर्ण कारण ये है की इससे आपको program की गहरी समझ प्राप्त होती है। आप coding से पहले ही उसमे आने वाली errors और result को देख पाते है।

    यदि flowchart completely prepare कर लिया गया है तो coding सिर्फ एक simple process रह जाती है जिसमे programmer को flowchart के अनुसार code लिखना होता है।

    Flow chart की सबसे बड़ी विशेषता ये होती है की flowchart किसी विशेष programming language के लिए नहीं होता है। Flow chart को देखकर आप किसी भी programming language में process को implement कर सकते है।

    बड़ी companies project develop करने से पहले flow chart पर बहुत सा समय लगाती है। Flowchart आपके program का blueprint होता है। ये मकान बनाने से पहले उसका नक्शा बनाने जैसा होता है। जितना समय coding में लगता है उससे कई अधिक समय flowchart में लगाया जाता है। Algorithms भी flow chart के अनुसार ही बनायीं जाती है।

    हर अच्छे programmer को इसे सीखना चाहिए क्योंकि यह एक बहुत ही powerful tool है। आज कल बहुत से modern text editors जैसे की Microsoft word आदि flow chart create करने के लिए built in options provide करते है। आप इन्हें यूज़ करके भी flow charts create कर सकते है।

    Symbols of Flowchart 

    किसी program को graphically समझाने के लिए कुछ symbols का प्रयोग किया जाता है। ये symbols आपको पहले से provide किये गए है। इन्हें flow chart symbols कहा जाता है। हर symbol का एक मतलब होता है जिससे flow chart देखने वाला आसानी से उसे समझ सकता है। निचे आपको table के माध्यम से flow chart symbols के बारे में बताया जा रहा है।

    Name
    Symbol  
    Explanation 
    Begin/End 
    ये oval symbol होता है। इसे terminal symbol भी कहा जाता है। इसे flow chart को start और end करने के लिए यूज़ किया जाता है। किसी भी processing से पहले program का start और end point define करना अत्यंत आवश्यक है।    
    Processing 
    जब भी आप कोई execution करते है या फिर कोई ऐसा statement जिसमे processing हो रही है उसे processing symbol से दर्शाया जाता है।  
    Input/Output 
    Program के input और output को  दर्शाने के लिए आप parallelogram का इस्तेमाल करते है।  
    Decision 
    Program में decision making statements को दर्शाने के लिए diamond symbol यूज़ किया जाता है।  
    Arrow (Flow) 
    Program का flow दिखाने के लिए arrow symbol यूज़ किया जाता है। इसे हर symbol के बाद flow दिखाने के लिए यूज़ किया जाता है।  

    Example of Flow Chart

    मान लीजिये आप एक addition का program बनाना चाहते है जो user से 2 numbers read करता है और उन्हें add करके result display करता है।इसके लिए आप flow chart इस प्रकार बनाएंगे। 
    ऊपर दिए गए flowchart में सबसे पहले oval symbol से flowchart को start किया गया है। इसके बाद rectangle symbol के द्वारा 3 variables (num1, num2 और Result) declare किये गए है। इसके बाद parallelogram द्वारा num1 और num2 को read करने की process को दर्शाया गया है।

    इसके बाद वापस rectangle symbol के द्वारा दोनों numbers के addition और Result variable को assign करने की process को दर्शाया गया है। इसके बाद parallelogram द्वारा result को display करने की process को दर्शाया गया है।

    सबसे आखिर में terminal symbol द्वारा flowchart को stop किया गया है। इस flow chart को देखकर कोई भी व्यक्ति आसानी से addition के program को किसी भी language में बना सकता है।

    आइये flow chart का एक और उदाहरण देखते है। मान लीजिये आप एक program बनाना चाहते है जो दो integer numbers को read करता है और जो उनमें से greater हो उसे display करवाता है। इसके लिए flow chart इस प्रकार create किया जायेगा।

    ऊपर दिए flow chart में सब कुछ पहले की तरह ही है बस diamond symbol के द्वारा condition के according दोनों numbers में से जो number greater है उसे display किया जा रहा है।   

    Previous: C First Program
    Next: C Operators