Loading...

Linux in Hindi – tail Command

  • Introduction to linux tail command in Hindi
  • Options of linux tail command in Hindi

Introduction to Linux tail Command

File content के साथ कार्य करने के लिए linux में एक head के अलावा tail command भी provide की गयी है।

यह command head command के विपरीत कार्य करती है। यानि की जिस head command किसी file की शुरआत की 10 lines display करती है। उसी प्रकार tail command किसी file की आखिर 10 lines show करती है।

हालाँकि यह इस प्रमुख कार्य नहीं है। इस command का प्रमुख कार्य error messages को read करना है।

Syntax

tail [option] file-name

जैसा की आप देख सकते है। tail command के साथ options भी use किये जा सकते है। Tail command लगभग head command के जैसे ही options provide करती है।

Example

tail abc.txt

यह tail command का sabse सामान्य उपयोग है। इसमें abc.txt file की last 10 lines को display किया गया है।

linux-tail-command

Use for Multiple Files

Head command की ही तरह आप चाहे तो tail command से भी एक साथ multiple files के content को देख सकते है।

tail file1 file2 file3
linux-tail-command-multiple-files

Options of Linux tail Command

Linux tail command के साथ -n, -c, -q, -v, -f options available है।

-n

यदि आप default आखिर 10 lines को ना देखकर कुछ specific number of lines को देखना चाहते है तो इसके लिए आप -n option का प्रयोग कर सकते है।

इस option से आप एक integer number define कर सकते है। ऐसा करने से output के रूप file की उतनी ही lines display की जाती है।

tail -n 15 abc.txt
linux-tail-command-n-option

-c

कई बार ऐसा भी हो सकता है की आप number of lines को ना देखकर कुछ specific number of bytes में आखिरी data को देखना चाहते है।

इसके लिए linux में options provide किया गया है। Linux tail command के साथ -c option का प्रयोग करते हुए आप number of bytes specify कर सकते है।

इससे output में आपको उतनी number of bytes का data file के आखिर से show किया जाता है।

tail -c 200 xyz.txt
linux-tail-command-c-option

-q

जब multiple files का data tail command द्वारा देखा जाता है तो हर file के data से पूर्व उस file का नाम extension के साथ display होता है।

यह कई situations में उपयोगी भी होता है। लेकिन यदि आप चाहते है की multiple files का data एक file के रूप में show हो और files का नाम display ना हो तो इसके लिए आप tail command – q option को use कर सकते है।

tail -q abc.txt xyz.txt contact.txt 
linux-tail-command-q-option

-f

यह option दूसरे किसी भी option से अलग है और महत्वपूर्ण भी है। इसे administrators द्वारा errors messages को देखने के लिए use किया जाता है।

Administrators इस option के द्वारा log files को open करते है। इस option के बारे में ख़ास बात यह है की जब भी कोई नयी error आती है तो output automatically update हो जाता है।

यानी की administrator screen पर latest 10 errors हर time देख सकते है। यह command जब तक terminate नहीं होती है जब तक की ऐसी administrator स्वयं ना terminate कर दे।

Basically किसी application को troubleshoot करते समय log files को open करके latest 10 errors की जानकारी administrators द्वारा tail command के साथ यह option use करके ली जा सकती है।

tail -f logfile
linux-tail-command-f-option

-v

यह एक useful option है। इसके प्रयोग से अब भी आप किसी file के data को देखते है तो data हमेशा file के नाम के बाद दिखाया जाता है।

यदि किसी परिपेक्ष में file का नाम दिखाया जाना अति महत्वपूर्ण हो तो इस हेतु आप इस command का प्रयोग कर सकते है।

tail -v abc.txt
linux-tail-command-v-option