Loading...

Linux in Hindi – Administrator Commands

  • Introduction to linux administrator commands in Hindi
  • Different linux administrator commands in Hindi

Introduction to Linux Administrator Commands

एक organization में जो व्यक्ति system को setup और maintain करने का कार्य करता है, system administrator कहलाता है। ज़रूरत पड़ने पर system को troubleshoot करना और up to date रखना भी system administrator की ही ज़िम्मेदारी होती है।

Linux में system administrators को special permissions होने के अलावा कुछ ऐसी commands भी provide की गयी है जिनका प्रयोग सिर्फ़ administrator द्वारा किया जा सकता है। ये commands administrator system को maintain करने के लिए use करता है।

यदि आप किसी organization में system administrator के रूप में कार्यरत है तो आपको इन commands का ज्ञान होना आवश्यक होता है। एक normal user के रूप में भी कई बार आपको इन commands के बारे में अवश्य पता होना चाहिए।

man

Linux shell में manual pages available होते है जिनमें सभी commands के बारे में जानकारी होती है। इन pages को access करने के लिए man command use की जाती है।

man keyword
linux-man-command

इस command के बारे में अधिक जानकारी के लिए Linux man command in Hindi tutorial पढ़े।

uptime

किसी भी system का uptime बताता है की system कब से चल रहा है। इससे system को उसकी full capacity तक use करने में मदद मिलती है।

uptime
linux-uptime-command

Output में यह command uptime के अलावा system का वर्तमान समय, वर्तमान में login users की सँख्या और system का load average display करती है।

Linux uptime command के साथ -v option के उपयोग से उसकी version information display की जाती है।

uptime -V
linux-uptime-command-V-option

users

वर्तमान में login सभी users के username display करने के लिए यह command use की जाती है। यह command system load के बारे में जानकारी जुटाने में मददगार होती है।

users 
linux-users-command

Service

Service command द्वारा किसी service को start, stop, pause किया जा सकता है और उसका status देखा जा सकता है। इसके लिए उस service की script को call किया जाता है।

service script-name command-name

यँहा पर script name service की script का नाम होगा और command-name start, stop, pause या status में कोई एक command string होगी।

linux-service-command

Start command name service को start करती है, stop service को stop करती है, pause service को pause करती है और status द्वारा service का current status देखा जाता है।

kill

किसी process को kill करने के लिए kill command use की जाती है। इस command को execute करते समय process की id (pid) और signal argument के रूप में pass किए जाते है।

kill signal pid
linux-kill-command

Currently running सभी processes की pid देखने के लिए ps -A command use की जा सकती है।

ps -A
linux-ps-command-A-option

Output में यह command process का नाम, id और uptime show करती है। इसके बाद जिस भी process को आप kill करना चाहते है उसकी id kill command के साथ प्रयोग कर सकते है।

Signals का प्रयोग service को user के intention का signal देने के लिए प्रयोग किया जाता है। Linux kill command के साथ लगभग 60 signals available है जिनसे आप service को quit, kill और timinate जैसे signals भेज सकते है।

हालाँकि इनमे से कुछ common signals ही mostly use किए जाते है। इन signals के साथ इनके numbers भी associated होते है kill command के साथ signal के नाम के अलावा उनके numbers भी use किए जा सकते है।

SignalNumber Explanation
SIGINT2Interrupt करें।
SIGQUIT3Quit करें।
SIGKILL9Kill करें।
SIGTERM15Terminate करें।
SIGSTOP24Stop करें।
SIGTSTP25Stop और pause करें।
SIGCONT26Pause की गयी service को continue करें।

System में available सभी signal names को display करने के लिए kill command के साथ -l option use किया जाता है।

kill -l 

killall

Linux killall command भी kill command की तरह ही processes को kill करने के लिए use की जाती है। लेकिन यह command process id की जगह उसका नाम argument के रूप में use करती है।

Pass किए गये नाम से जो भी processes match होती है उन सभी को kill कर दिया जाता है। इस command के साथ भी signals का प्रयोग किया जाता है।

killall signal process-name

यह एक case sensitive command होती है। Case को ignore करने के लिए इस command के साथ -I option use किया जाता है।

killall -I

pkill

Linux pkill command भी kill command की तरह होती है। लेकिन यह command process id की जगह यह process का नाम use करती है। इसके अलावा जो दूसरा मुख्य difference है वह यह है की यह command आपको किसी process का partial नाम pass करने की ability provide करती है।

pkill signal partial-name
linux-pkill-command

यदि आप command का पूरा नाम pass नही करके उसके नाम के शुरुआती कुछ characters pass करते है तो उन characters से match होने वाली command terminate कर दी जाती है। Partial नाम कम से कम उतना होना चाहिए की जिससे process को uniquely identify किया जा सके। इसके अलावा partial नाम शुरू के 15 characters में होना चाहिए।

xkill

Linux xkill command बिना process id और नाम के processes को kill करने के लिए use की जाती है। यह command xorg-xkill package का part होती है।

xkill
linux-xkill-command
linux-xkill-command-example

आप simply shell में xkill type करते है। इससे आपका mouse cursor X में convert हो जाता है। अब आप इस mouse cursor को उस window (या process) पर ले जाते है जिसे आप kill करना चाहते है। जैसे ही आप cursor को window पर ले जाते है वह process kill हो जाती है।

Next: Linux Administrator commands part 2